Sunday, 29 April 2018

बृहस्पति वक्री 2018 - तुला में वक्री गुरु, क्या होगा असर आपकी राशि पर!



Hi Friends,
This is George Cherpanathan. 
For your personalized detailed guidance on your horoscope.
You can call me at +919923943448; or +91 7972921616 for an appointment or you can mail your queries.
Charges apply.
Mail: -   astrogeorgeindia@gmail.com;   georgeinpune@gmail.com
Blog: -   astrogeorgeindia.blogspot.com

बृहस्पति वक्री 2018 - तुला में वक्री गुरु, क्या होगा असर आपकी राशि पर!

  • ज्योतिषशास्त्र के अनुसार ग्रहों का राशि परिवर्तन तो मायने रखता ही है लेकिन ग्रहों का वक्री होना यानि की ग्रहों को विपरीत दिशा में चल पड़ना भी राशिफल को काफी प्रभावित करता है। 
  • राशि परिवर्तन से लेकर गोचर में शनि, राहू-केतु बृहस्पति का वक्री मार्गी होना बहुत खास गतिविधि मानी जाती हैं। 
  • इन ग्रहों की गतिविधियां व्यापक रूप से जातकों के भविष्य को प्रभावित करती हैं। 
  • वर्तमान में बृहस्पति तुला राशि में गोचर कर रहे हैं जो कि 12 सितंबर 2017 से यहां विराजमान हैं। 
  • 2018 में 11 अक्तूबर को बृहस्पति पुन: अपनी राशि बदलेंगें। 
  • लेकिन इसी बीच बृहस्पति की चाल में एक परिवर्तन होने जा रहा है। 
  •  9 मार्च, 2018 से गुरु ग्र्ह वक्री होने जा रहे हैं और 11 जुलाई, 2018 तक वह इसी स्थिति में रहेंगे।
  • बृहस्पति का वक्र होना आपके निर्णय लेने की क्षमता, बड़े बुजूर्ग अथवा वरिष्ठ कर्मियों, सहयोगियों या अधिकारियों के सहयोग को प्रभावित कर सकता है। 
  • तो आइये जानते हैं वक्री बृहस्पति कैसे करेंगें राशिनुसार आपको प्रभावित।
  • तुला में वक्री गुरु, क्या होगा असर आपकी राशि पर


मेष
  • आपकी राशि से बृहस्पति सातवें स्थान में वक्री हो रहे हैं। 
  • बृहस्पति के वक्र होने से आपकी रोमांटिक लाइफ में इसके नेगेटिव इफेक्ट देखने को मिल सकते हैं। 
  • संभव है पार्टनर के साथ आपके रिलेशन सौहार्दपूर्ण हों। इस समय आपका रुझान धार्मिक कार्यों की ओर बढ़ सकता है। 
  • अपनी सेहत का खास तौर पर आपको ध्यान रखने की आवश्यकता है। 
  • उदर Kidney संबंधी समस्याओं के प्रति सचेत रहे। 
  • फाइनेशियल डीसीज़न सोच समझकर लेंगें तो लाभ की स्थिति में रह सकते हैं। 
  • गुरु आपकी आर्थिक स्थिति के पहले से बेहतर होने के संकेत कर रहे हैं। मां का प्यार सहयोग आपको मिलने के आसार हैं।

वृष
  • आपकी राशि से बृहस्पति छठे घर में वक्री हो रहे हैं। 
  • गुरु की चाल में आया यह बदलाव आपके लिये परेशानियां लेकर सकता है। 
  • यह परेशानियां आपको अपनी लाइफ के विभिन्न क्षेत्रों में दिखाई दे सकती हैं। 
  • विरोधियों, विपक्षियों कार्यस्थल पर ईर्ष्या रखने वालों से आपको इस समय सावधान रहने की आवश्यकता रहेगी। 
  • करियर में भी आपको इस समय परेशानियां झेलनी पड़ सकती हैं। 
  • कामकाजी जीवन में बाधाएं सकती हैं। 
  • यदि कोई महत्वपूर्ण निर्णय इस दौरान लेना पड़े तो हमारी सलाह है कि किसी अनुभवी या फिर बड़े बुजूर्गों से सलाह अवश्य लें। 
  • गलत निर्णय लेने की संभावनाएं हैं इसलिये थोड़ा सोच समझकर ही फैसला करें। 
  • धन निवेश करने के मामले में भी आपको सचेत रहने की आवश्यकता है अन्यथा फाइनेंशियल लॉस उठाना पड़ सकता है। 
  • खर्चों पर भी आपको अंकुश लगाने की जरुरत है।

मिथुन
  • आपकी राशि से बृहस्पति पांचवे स्थान में वक्र हो रहे हैं। 
  • आपके कामकाजी जीवन में आपको बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। 
  • हो सकता है आपके बनते हुए कार्य अचानक किसी कारणवश रूक जायें। संतान पक्ष को लेकर भी आप चिंतित रह सकते हैं। 
  • रोमांटिक लाइफ में भी हो सकता है पार्टनर से अपेक्षित सहयोग मिले जिससे आप दोनों के बीच दूरियां बढ़ें।
  • जिस समय आपको अपने पार्टनर की अधिक जरुरत महसूस हो उसी समय हो सकता है उनका साथ आपको मिले।
  • कुल मिलाकर आपको वक्री बृहस्पति के समय थोड़ा संभलकर रहने की आवश्यकता रहेगी।

कर्क
  • आपकी राशि से चौथे स्थान में देवगुरु बृहस्पति वक्री हो रहे हैं। 
  • चौथा स्थान आपके सुख का स्थान माना जाता है। 
  • वक्री गुरु आपके लिये सुख सुविधाओं में कमी के संकेत कर रहे हैं। 
  • कार्यस्थल पर भी हो सकता है आप पर उच्चाधिकारियों का दबाव बना रहे। 
  • इस समय आपके विचारों में नेगेटिविटि सकती है। 
  • यह नकारात्मकता आपके प्रदर्शन को भी प्रभावित कर सकती है साथ ही आपकी छवि भी इससे धूमिल हो सकती है। 
  • इन्कम को लेकर भी कोई ईश्यू हो सकता है।

सिंह
  • आपकी राशि से बृहस्पति तीसरे घर में वक्री हो रहे हैं जो कि आपके पराक्रम का स्थान है। 
  • वक्री गुरु के प्रभाव से आप थोड़े आलसी पड़ सकते हैं। 
  • आपकी सुस्ती कार्यस्थल पर आपके प्रदर्शन को प्रभावित कर सकती है इसलिये हमारी सलाह है कि काम में ध्यान लगाये रखने का प्रयास करें। 
  • इस समय आपको मेहनत का फल ही मिल सकता है भाग्य के भरोसे बैठने से कुछ हासिल नहीं होगा। 
  • रोमांटिक जीवन में लाइफ पार्टनर से मनमुटाव हो सकता है। 
  • अतीत में किये किसी निवेश से लाभ पा रहे हैं तो हो सकता है इसमें कुछ समय के लिये कमी आये।

कन्या
  • आपकी राशि से दूसरे स्थान में गुरु वक्री हो रहे हैं। 
  • धन भाव में बृहस्पति के वक्र होने से आपका संचित धन कम हो सकता है। 
  • इस समय आपके लिये छोटी मोटी यात्राओं के योग भी बन रहे हैं। 
  • जिन क्षेत्रों से आपको फिलहाल लाभ मिल रहा है उसमें परेशानियां सकती हैं। 
  • प्रतिद्वंदियों, विपक्षियों, विरोधियों से भी इस दौरान सावधान रहें।

तुला
  • बृहस्पति का गोचर आपकी ही राशि में हो रहा है। 
  • बृहस्पति के वक्र होने से आप अपनी लाइफ के लगभग सभी क्षेत्रों में एक अजीब सा ठहराव महसूस कर सकते हैं।
  • साधन संपन्न होने के बावजूद हो सकता है आप उनका सुख महसूस कर सकें। सामर्थ्य होने के बावजूद आपको ऐसा महसूस हो सकता है मानो किसी ने आपके हाथ जकड़ दिये हों। 
  • इस समय भाग्य भले आपका साथ दे लेकिन आपके लाइफ पार्टनर की आपको पूरी सपोर्ट रहेगी।

वृश्चिक
  • आपकी राशि से 12वें स्थान में बृहस्पति वक्री हो रहे हैं जो कि आपके व्यय का स्थान है। 
  • यदि आप धन निवेश करने की योजना बना रहे हैं तो बृहस्पति हानि के संकेत कर रहे हैं निर्णय काफी सोच समझकर लें। सुख सुविधाओं का अभाव भी आपको हो सकता है। 
  • हालांकि करियर से लेकर लाइफ में आप अपने प्रतिस्पर्धियों पर हावि रह सकते हैं। 
  • आपके शत्रु इस समय आपसे पराजित हो सकते हैं। 
  • अपना बैग तैयार रखें बृहस्पति आपके लिये यात्रा के योग बना रहे हैं। 
  • हालांकि यात्रा के दौरान आपको अपनी सेहत का ध्यान रखने की आवश्यकता रहेगी। 
  • विशेषकर लीवर कीडनी का विशेष ध्यान रखें।

धनु
  • बृहस्पति आपकी राशि के स्वामी हैं जो कि वर्तमान में आपकी राशि से लाभ स्थान में वक्री हो रहे हैं। 
  • इस समय आपके कार्य लंबे समय के लिये लटक सकते हैं। 
  • कामकाज में भी हो सकता है आपका मन लगे। 
  • आलस्य की प्रवृति आप पर हावि हो सकती है। 
  • रोमांटिक मैरिड लाइफ को लेकर आप थोड़ी टेंशन में हो सकते हैं। 
  • संतान को लेकर भी आपकी चिंताएं हो सकती हैं। 
  • इस समय आप अपने पारिवारिक जीवन में उतार-चढ़ाव महसूस कर सकते हैं।

मकर
  • मकर राशि वालों के लिये बृहस्पति दसवें स्थान में वक्री हो रहे हैं जो कि आपके कर्म का स्थान है। 
  • यह समय आपके कार्यों में रूकावटें लेकर सकता है। 
  • पैतृक संपत्ति से किसी लाभ की अपेक्षा कर रहे हैं तो हो सकता है अपेक्षित लाभ मिले। 
  • सुख-सुविधाओं में भी कमी हो सकती है। 
  • दांपत्य जीवन में किसी तरह की परेशानी चल रही है तो इसके समाधान के लिये किसी थर्ड पर्सन की सहायता लेनी पड़ सकती है।

कुंभ
  • आपकी राशि से भाग्य स्थान में गुरु वक्री हो रहे हैं। 
  • कुंभ राशि वालों के लिये बृहस्पति का वक्र होना भाग्य का पूर्ण सहयोग नहीं मिलने के संकेत कर रहा है। 
  • इस समय आप अपनी सेहत को लेकर भी थोड़ा परेशान रह सकते हैं। 
  • विशेषकर बढ़ता हुआ वज़न आपकी समस्या का कारण हो सकता है। 
  • कामकाज में भी आपका मन कम ही लगेगा। आलसीपन हावि रहने के आसार हैं। 
  • रोमांटिक लाइफ के लिये भी समय सही नहीं है। 
  • पार्टनर से रिश्ते मधुर नहीं रहेंगें। 
  • जो जातक किसी इंटरव्यू की तैयारी कर रहे हैं वे थोड़ा संभलकर रहें शुभ योग नहीं हैं तैयारी थोड़ी अच्छे से करें।

मीन
  • आपकी राशि से अष्टम भाव में राशि स्वामी बृहस्पति वक्री हो रहे हैं। 
  • सेहत का ध्यान रखें। उदर संबंधी परेशानियों से झूझना पड़ सकता है। 
  • खान-पान का ध्यान रखें, किडनी संबंधी समस्या भी उजागर हो सकती है। 
  • वज़न की समस्या भी आपको परेशना कर सकती है। 
  • पूरी संभावनाएं हैं कि आप अनावश्यक वस्तुओं में पैसे खर्च करें। 
  • अपनी इस प्रवृति पर आपको अंकुश लगाने की आवश्यकता है। 
  • भौतिक सुखों का अभाव भी आपको वक्री गुरु के दौरान झेलना पड़ सकता है।


यह राशिफल सामान्य ज्योतिषीय आकलन के आधार पर है। कुंडली के अनुसार वक्री बृहस्पति आपके लिये बेनिफिशियल हैं या  हार्मफुल जानने के लिये एस्ट्रोलॉजर्स से गाइडेंस लें।

No comments:

Post a Comment